Naval Pal Prabhakar/नवलपाल प्रभाकर
लोगों की राय

लेखक:

नवलपाल प्रभाकर

नवलपाल प्रभाकर
 
जन्म : 03-01-1985
आत्मज : श्री ओम प्रकाश
शिक्षा : एम. ए॰ (हिन्दी) प्रभाकर
रूचि   : पठन-पाठन में विशेष रुचि, जहाँ कहीं भी. जो भी अनुकरणीय लगे उसे अपने जीवन तथा रचनाओं में उतारने को भी उतावले ।
सम्प्रति : स्वतंत्र लेखन
सम्पर्क : नवल पाल
              गाँव- साल्हावास
              जिला- झज्जर (हरियाणा)
              मो० 09671004416

उजला सवेरा

नवलपाल प्रभाकर

आज की पीढ़ी को प्रेरणा देने वाली कविताएँ

  आगे...

कुमुदिनी (हरयाणवी लोक कथाएँ)

नवलपाल प्रभाकर

ये बाल-कथाएँ जीव-जन्तुओं और बालकों के भविष्य को नजर में रखते हुए लिखी गई है

  आगे...

नारी की व्यथा

नवलपाल प्रभाकर

मधुशाला की तर्ज पर नारी जीवन को बखानती रूबाईयाँ

  आगे...

यादें (काव्य-संग्रह)

नवलपाल प्रभाकर

बचपन की यादें आती हैं चली जाती हैं पर इस कोरे दिल पर अमिट छाप छोड़ जाती हैं।

  आगे...

 

  View All >>   4 पुस्तकें हैं|