हल्दी और फिटकरी - राजीव शर्मा Haldi Aur Fitkari - Hindi book by - Rajiv Sharma
लोगों की राय

स्वास्थ्य-चिकित्सा >> हल्दी और फिटकरी

हल्दी और फिटकरी

राजीव शर्मा


E-book On successful payment file download link will be available
प्रकाशक : डायमंड पब्लिकेशन्स प्रकाशित वर्ष : 2018
पृष्ठ :64
मुखपृष्ठ : ई-पुस्तक
पुस्तक क्रमांक : 11988

Like this Hindi book 0

हल्दी की एक और विशेषता यह है कि यह रक्तशोधक है। यह रक्त के दोषों को मूत्र द्वारा अथवा दस्त द्वारा निकालकर दूर कर देती है। यह शरीर में चूने के पदार्थ के साथ मिलकर रक्त को शुद्ध लाल रंग का बनाती है। रक्त के रंग को लाल रंग का बनाने का प्रमाण यह है कि यद्यपि हल्दी का रंग पीला होता है फिर भी पीलिया के रोगियों की चिकित्सा हकीम हल्दी द्वारा करते हैं। इसलिए यह बाहर से पीले रंग की दिखाई देने वाली हल्दी अन्दर शरीर में जाकर रक्त को शुद्ध एवं लाल रंग का बनाती है।

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

यद्यपि हल्दी पूरे शरीर की रक्षा करती है तो भी विशेषकर आंखों के लिए बहुत उपयोगी है। इसका नियमित सेवन करने से यह आंखों की रोशनी तेज करती है तथा आंखों को साफ करती है। जिस प्रकार बिजली की लाइन अंधेरे घर में उजाला कर देती है उसी तरह यह हमारी आंखों को रोशनी प्रदान करती है। प्राचीन लोग आंखों में एक पेस्ट लगाते थे जिसे ‘ममीर’ कहते थे। वह हल्दी से ही बनाया जाता था।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book