Hindi stories at Pustak.org
लोगों की राय

कहानी संग्रह

पंचतंत्र

विष्णु शर्मा

भारतीय साहित्य की नीति और लोक कथाओं का विश्व में एक विशिष्ट स्थान है। इन लोकनीति कथाओं के स्रोत हैं, संस्कृत साहित्य की अमर कृतियां - पंचतंत्र एवं हितोपदेश।

  आगे...

जयशंकर प्रसाद की कहानियां

जयशंकर प्रसाद

जयशंकर प्रसाद की सम्पूर्ण कहानियाँ

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 46

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का सैंतालीसवाँ अन्तिम भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 45

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का पैंतालीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 44

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का चौवालीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 43

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का तैंतालीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 42

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का बयालीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 41

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का इकतालीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 40

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का चालीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 39

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का उन्तालीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 38

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का अड़तीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 37

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का सैंतीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 36

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का छत्तीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 35

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का पैंतीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 34

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का चौंतीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 33

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का तैंतीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 32

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का बत्तीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 31

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का इकतीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 30

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का तीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 29

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का उन्तीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 28

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का अट्ठाइसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 27

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का सत्ताइसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 26

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का छब्बीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 25

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का पच्चीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 24

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का चौबीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 23

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का तेइसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 22

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का बाइसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 21

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का इक्कीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 20

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का बीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 19

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का उन्नीसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 18

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का अठारहवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 17

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का सत्रहवाँ भाग

  आगे...

प्रेमंचन्द की कहानियाँ 16

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का सोलहवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 15

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का पन्द्रहवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 14

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का चौदहवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 13

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का तेरहवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 12

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का बारहवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 11

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का ग्यारहवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 10

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का दसवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 9

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का नौवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 8

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का आठवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 7

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का सातवाँ भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 6

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का छटा भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 5

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का पाँचवां भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 4

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का चौथा भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 3

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का तीसरा भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 2

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का दूसरा भाग

  आगे...

प्रेमचन्द की कहानियाँ 1

प्रेमचंद

प्रेमचन्द की सदाबहार कहानियाँ का पहला भाग

  आगे...

बोध कथाएँ

विनोबा भावे

  आगे...

वेताल पचीसी

वेताल भट्ट

सदियों से प्रसिद्ध वेताल और राजा विक्रमादित्य की मनोहारी कथा   आगे...

सिंहासन बत्तीसी

वर रुचि

सिंहासन बत्तीसी 32 लोक कथाओं का ऐसा संग्रह है, जिसमें विक्रमादित्य के सिंहासन में लगी हुई 32 पुतलियाँ राजा के विभिन्न गुणों का कथा के रूप में वर्णन करती हैं।   आगे...

सप्त सरोज (कहानी संग्रह)

प्रेमचन्द

मुंशी प्रेमचन्द की सात प्रसिद्ध कहानियाँ   आगे...

प्रेम प्रसून ( कहानी-संग्रह )

प्रेमचन्द

इन कहानियों में आदर्श को यथार्थ से मिलाने की चेष्टा की गई है   आगे...

प्रेम पूर्णिमा (कहानी-संग्रह)

प्रेमचन्द

मनुष्य की प्रवृत्ति और समय के साथ बदलती नीयत का बखान करती 15 कहानियाँ   आगे...

प्रेम पीयूष ( कहानी-संग्रह )

प्रेमचन्द

नव जीवन पत्रिका में छपने के लिए लिखी गई कहानियाँ   आगे...

प्रेम पचीसी (कहानी-संग्रह)

प्रेमचन्द

मुंशी प्रेमचन्द की पच्चीस प्रसिद्ध कहानियाँ   आगे...

प्रेम चतुर्थी (कहानी-संग्रह)

प्रेमचन्द

मुंशी प्रेमचन्द की चार प्रसिद्ध कहानियाँ   आगे...

पाँच फूल (कहानियाँ)

प्रेमचन्द

प्रेमचन्द की पाँच कहानियाँ   आगे...

कलम, तलवार और त्याग-2 (जीवनी-संग्रह)

प्रेमचन्द

महापुरुषों की जीवनियाँ   आगे...

कलम, तलवार और त्याग-1 (कहानी-संग्रह)

प्रेमचन्द

स्वतंत्रता-प्राप्ति के पूर्व तत्कालीन-युग-चेतना के सन्दर्भ में उन्होंने कुछ महापुरुषों के जो प्रेरणादायक और उद्बोधक शब्दचित्र अंकित किए थे, उन्हें ‘‘कलम, तलवार और त्याग’’ में इस विश्वास के साथ प्रस्तुत किया जा रहा है   आगे...

हिन्दी की आदर्श कहानियाँ

प्रेमचन्द

प्रेमचन्द द्वारा संकलित 12 कथाकारों की कहानियाँ   आगे...

गुप्त धन-2 (कहानी-संग्रह)

प्रेमचन्द

प्रेमचन्द की पच्चीस कहानियाँ   आगे...

गुप्त धन-1 (कहानी-संग्रह)

प्रेमचन्द

प्रेमचन्द की पच्चीस कहानियाँ   आगे...

ग्राम्य जीवन की कहानियाँ (कहानी-संग्रह)

प्रेमचन्द

उपन्यासों की भाँति कहानियाँ भी कुछ घटना-प्रधान होती हैं, मगर…   आगे...

गल्प समुच्चय (कहानी-संग्रह)

प्रेमचन्द

गल्प-लेखन-कला की विशद रूप से व्याख्या करना हमारा तात्पर्य नहीं। संक्षिप्त रूप से गल्प एक कविता है   आगे...

बिखरे मोती

सुभद्रा कुमारी चौहान

सुभद्रा कुमारी चौहान द्वारा स्वतंत्रता संग्राम के समय यत्र तत्र लिखी गई कहानियाँ

  आगे...

 

  View All >> इस संग्रह में कुल 66 पुस्तकें हैं|